• Sat. Dec 9th, 2023

    CRIME AZAMGARH / बिहार राज्य के युवाओं का ठगी का कारनामा, विदेशी महिला बनकर 18 ठगे चढ़े पुलिस के हत्थे

    ByA.K. SINGH

    Mar 6, 2023

    CRIME AZAMGARH /  आज़मगढ़ : फेसबुक पर विदेशी महिला बनकर लोगो से दोस्ती कर महंगे गिफ्ट व् करोडो रुपये देने के बहाने 18 लाख की साइबर ठगी करने वाले गैंग का एक साइबर अपराधी नवादा बिहार से गिरफ्तार किया। जिसके पास से 6 मोबाइल फ़ोन बरामद हुए हैं। CRIME AZAMGARH

    पीड़ित राजेश कुमार राय, सिधारी आजमगढ़ ने साइबर क्राइम थाना आजमगढ़ में प्रार्थना पत्र दिया की फेसबुक पर विदेशी महिला लूसी चार्लोट ने दोस्ती कर पच्चीस हजार यू के पाउंड  व् महंगे उपहार देने के नाम पर मुझसे करीब 18 लाख रूपये की साइबर धोखाधड़ी की गयी हैं। CRIME AZAMGARH

    जिसकी सूचना के आधार पर मुकदमा आईटी एक्ट पंजीकृत किया गया। उक्त अपराध के सफल अनवारण एंव अभियुक्तो की गिरफ्तारी हेतु अपर पुलिस महानिदेशक, साइबर क्राइम मुख्यालय लखनऊ, पुलिस अधीक्षक, साइबर क्राइम मुख्यालय लखनऊ, एंव पुलिस अधीक्षक आजमगढ़ के निर्देशानुसार तकनीकी संसाधनो का प्रयोग करते हुए विवेचना के मध्य प्रभारी निरीक्षक साइबर क्राइम थाना परिक्षेत्र आजमगढ़ द्वारा अभिसूचना संकलन करके कार्यवाही प्रारम्भ की गयी तो उक्त अभियोग की विवेचना से नवादा व् नालन्दा बिहार अंतर्राज्यीय साइबर गैंग के 5 अभियुक्तों का नाम प्रकाश में आया ।CRIME AZAMGARH
    अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु श्रीमान अपर पुलिस महानिदेशक, साइबर क्राइम मुख्यालय लखनऊ से बिहार राज्य जाने हेतु परमिशन प्राप्त कर निरीक्षक श्री विमल प्रकाश राय, साइबर क्राइम थाना आजमगढ़ के नेतृतव में टीम को रवाना किया गया था। 4 मार्च को प्रकाश में आये अंतर्राज्यीय साइबर गैंग के अभियुक्त सौरभ कुमार पुत्र अनंत कुमार निवासी मिरबिघा चकवे थाना वारिसलिन गंज जिला नवादा बिहार को उसके घर से गिरफ्तार किया गया तथा प्रकाश में आये अन्य अभियुक्त रिपान्शु कुमार, दिलीप कुमार रिपेश कुमार उर्फ़ बिट्टू थाना कतरी सराय जिला नालंदा बिहार फरार हो गये. तत्पश्चात गिरफ्तार आरोपी को आई0टी0 एक्ट में ट्रांजिट रिमांड लेकर  न्यायलय सी.जी.ऍम. आजमगढ़ के समक्ष प्रस्तुत किया गया। CRIME AZAMGARH

    See also  WETHER / आजमगढ़ : उत्तर प्रदेश के लिए मौसम विभाग की एडवायजरी हुई जारी

    पुलिस विभाग द्वारा अभियुक्तों से जब गहनता से पूछताछ की गयी तो यह तथ्य सामने आया कि गिरफ्तार अभियुक्त सौरभ कुमार, ग्राम पंची शेखपुरा के रहने वाला रौशन कुमार व् रिपेश कुमार उर्फ़ बिट्टू थाना कतरी सराय जिला नालंदा बिहार जो पूर्व में साइबर अपराध में जेल जा चुके है, से के बी सी लाटरी फ्रॉड, विदेशी महिला बनकर गिफ्ट फ्रॉड व् फाइनेंस के नाम पर साइबर ठगी के बारे में सिखा है।  इसी तरह इसने अपने साथियों के साथ मिलकर उपरोक्त मुकदमे में विदेशी महिला बनकर फेसबुक पर दोस्ती कर यू के पौण्ड व् महंगे उपहार देने के नाम पर अधिवक्ता शुल्क, कस्टम शुल्क, फाइल शुल्क इत्यादि के नाम पर करीब 18 लाख रूपये की साइबर धोखाधड़ी की गयी थी।निकाले गए पैसे को हम सब आपस में पैसे ट्रान्सफर कर ये सब आपस में बाट लिया करते थे।CRIME AZAMGARH